जश्न-ए-आमद-ए-रसूल अल्लाह ही अल्लाह | बीबी आमिना के फूल अल्लाह ही अल्लाह / Jashn-e-Amad-e-Rasool Allah Hi Allah | Bibi Amina Ke Phool Allah Hi Allah

जश्न-ए-आमद-ए-रसूल, अल्लाह ही अल्लाह !
बीबी आमिना के फूल, अल्लाह ही अल्लाह !

अल्लाह ही अल्लाह ! बोलो ! अल्लाह ही अल्लाह !
अल्लाह ही अल्लाह ! बोलो ! अल्लाह ही अल्लाह !

जश्न-ए-आमद-ए-रसूल, अल्लाह ही अल्लाह !
बीबी आमिना के फूल, अल्लाह ही अल्लाह !

जब कि सरकार तशरीफ़ लाने लगे
हूर-ओ-ग़िल्माँ भी ख़ुशियाँ मनाने लगे
हर तरफ़ नूर की रौशनी छा गई
मुस्तफ़ा क्या मिले ज़िंदगी मिल गई
ऐ हलीमा ! तेरी गोद में आ गए
दोनों 'आलम के रसूल, अल्लाह ही अल्लाह !

अल्लाह ही अल्लाह ! बोलो ! अल्लाह ही अल्लाह !
अल्लाह ही अल्लाह ! बोलो ! अल्लाह ही अल्लाह !

जश्न-ए-आमद-ए-रसूल, अल्लाह ही अल्लाह !
बीबी आमिना के फूल, अल्लाह ही अल्लाह !

चेहरा-ए-मुस्तफ़ा जब दिखाया गया
झुक गए तारे और चाँद शर्मा गया
आमिना देख कर मुस्कुराने लगीं
हव्वा, मरियम भी ख़ुशियाँ मनाने लगीं
आमिना बीबी सब से ये कहने लगीं
दु'आ हो गई क़ुबूल, अल्लाह ही अल्लाह !

अल्लाह ही अल्लाह ! बोलो ! अल्लाह ही अल्लाह !
अल्लाह ही अल्लाह ! बोलो ! अल्लाह ही अल्लाह !

जश्न-ए-आमद-ए-रसूल, अल्लाह ही अल्लाह !
बीबी आमिना के फूल, अल्लाह ही अल्लाह !

शादियाने ख़ुशी के बजाए गए
शादी के नग़्मे सब को सुनाए गए
हर तरफ़ शोर-ए-सल्ले-'अला हो गया
आज पैदा हबीब-ए-ख़ुदा हो गया
फिर तो जिब्रील ने भी ये ए'लाँ किया
ये ख़ुदा के हैं रसूल, अल्लाह ही अल्लाह !

अल्लाह ही अल्लाह ! बोलो ! अल्लाह ही अल्लाह !
अल्लाह ही अल्लाह ! बोलो ! अल्लाह ही अल्लाह !

जश्न-ए-आमद-ए-रसूल, अल्लाह ही अल्लाह !
बीबी आमिना के फूल, अल्लाह ही अल्लाह !

उन का साया ज़मीं पर न पाया गया
नूर से नूर देखो जुदा न हुआ
हम को, 'आबिद ! नबी पर बड़ा नाज़ है
क्या भला मेरे आक़ा का अंदाज़ है
जिस ने रुख़ पर मली वो ज़िया पा गया
अर्ज़-ए-तयबा ! तेरी धूल, अल्लाह ही अल्लाह !

अल्लाह ही अल्लाह ! बोलो ! अल्लाह ही अल्लाह !
अल्लाह ही अल्लाह ! बोलो ! अल्लाह ही अल्लाह !

जश्न-ए-आमद-ए-रसूल, अल्लाह ही अल्लाह !
बीबी आमिना के फूल, अल्लाह ही अल्लाह !

उन का साया ज़मीं पर न पाया गया
नूर से नूर देखो जुदा न हुआ
हम को, 'आबिद ! नबी पर बड़ा नाज़ है
क्या भला मेरे आक़ा का अंदाज़ है
जिस ने रुख़ पर मली वो शिफ़ा पा गया
ख़ाक-ए-तयबा ! तेरी धूल, अल्लाह ही अल्लाह !

अल्लाह ही अल्लाह ! बोलो ! अल्लाह ही अल्लाह !
अल्लाह ही अल्लाह ! बोलो ! अल्लाह ही अल्लाह !

जश्न-ए-आमद-ए-रसूल, अल्लाह ही अल्लाह !
बीबी आमिना के फूल, अल्लाह ही अल्लाह !


शायर:
आबिद बरेलवी

ना'त-ख़्वाँ:
ओवैस रज़ा क़ादरी
फ़रहान अली क़ादरी
सय्यिद हस्सानुल्लाह हुसैनी





jashn-e-aamad-e-rasool, allah hi allah !
bibi aamina ke phool, allah hi allah !

allah hi allah ! bolo ! allah hi allah !
allah hi allah ! bolo ! allah hi allah !

jashn-e-aamad-e-rasool, allah hi allah !
bibi aamina ke phool, allah hi allah !

jab ki sarkaar tashreef laane lage
hoor-o-Gilmaa.n bhi KHushiya.n manaane lage
har taraf noor ki raushani chhaa gai
mustafa kya mile zindagi mil gai
ai haleema ! teri god me.n aa gae
dono.n 'aalam ke rasool, allah hi allah !

allah hi allah ! bolo ! allah hi allah !
allah hi allah ! bolo ! allah hi allah !

jashn-e-aamad-e-rasool, allah hi allah !
bibi aamina ke phool, allah hi allah !

chehra-e-mustafa jab dikhaaya gaya
jhuk gae taare aur chaand sharma gaya
aamina dekh kar muskuraane lagi.n
hawwa, mariyam bhi KHushiya.n manaane lagi.n
aamina bibi sab se ye kehne lagi.n
du'aa ho gai qubool, allah hi allah !

allah hi allah ! bolo ! allah hi allah !
allah hi allah ! bolo ! allah hi allah !

jashn-e-aamad-e-rasool, allah hi allah !
bibi aamina ke phool, allah hi allah !

shaadiyaane KHushi ke bajaae gae
shaadi ke naGme sab ko sunaae gae
har taraf shor-e-salle-'ala ho gaya
aaj paida habeeb-e-KHuda ho gaya
phir to jibreel ne bhi ye e'laa.n kiya
ye KHuda ke hai.n rasool, allah hi allah !

allah hi allah ! bolo ! allah hi allah !
allah hi allah ! bolo ! allah hi allah !

jashn-e-aamad-e-rasool, allah hi allah !
bibi aamina ke phool, allah hi allah !

un ka saaya zamee.n par na paaya gaya
noor se noor dekho juda na huaa
ham ko, 'Aabid ! nabi par ba.Da naaz hai
kya bhala mere aaqa ka andaaz hai
jis ne ruKH par mali wo ziya paa gaya
arz-e-tayba teri dhool, allah hi allah

allah hi allah ! bolo ! allah hi allah !
allah hi allah ! bolo ! allah hi allah !

jashn-e-aamad-e-rasool, allah hi allah !
bibi aamina ke phool, allah hi allah !

un ka saaya zamee.n par na paaya gaya
noor se noor dekho juda na huaa
ham ko, 'Aabid ! nabi par ba.Da naaz hai
kya bhala mere aaqa ka andaaz hai
jis ne ruKH par mali wo shifa paa gaya
KHaak-e-tayba teri dhool, allah hi allah

allah hi allah ! bolo ! allah hi allah !
allah hi allah ! bolo ! allah hi allah !

jashn-e-aamad-e-rasool, allah hi allah !
bibi aamina ke phool, allah hi allah !


Poet:
Aabid Barelvi

Naat-Khwaan:
Owais Raza Qadri
Farhan Ali Qadri
Syed Hassan Ullah Hussaini
Jashn e Amad e Rasool Lyrics | Jashn e Amad e Rasool Lyrics in Hindi | Bibi Amina Ke Phool Naat Lyrics in Hindi | Bibi Amna Ke Phool Lyrics in English | jashne amade rasool lyrics | aamade rasul amena aamena aamna fool ful k allahi allah lyrics of naat | naat lyrics in hindi | islamic lyrics | hindi me naat lyrics | hindi me naat likhi hui | All Naat Lyrics in Hindi | नात शरीफ लिरिक्स हिंदी, नात शरीफ लिरिक्स हिंदी में, नात शरीफ लिरिक्स हिंदी में, नात हिंदी में लिखी हुई | नात शरीफ की किताब हिंदी में | आला हजरत की नात शरीफ lyrics | हिंदी नात | Lyrics in English | Lyrics in Roman 50+ Naat Lyrics | Best Place To Find All Naat Sharif | 500+ Naat Lyrics | Best Site To Find All Naat in Hindi, English | 430 Naat lyrics ideas in 2023

Comments

Most Popular

क्या बताऊँ कि क्या मदीना है / Kya Bataun Ki Kya Madina Hai

वो शहर-ए-मोहब्बत जहाँ मुस्तफ़ा हैं / Wo Shehr-e-Mohabbat Jahan Mustafa Hain (All Versions)

ऐ ज़हरा के बाबा सुनें इल्तिजा मदीना बुला लीजिए / Aye Zahra Ke Baba Sunen Iltija Madina Bula Lijiye

हम ने आँखों से देखा नहीं है मगर उन की तस्वीर सीने में मौजूद है | उन का जल्वा तो सीने में मौजूद है / Hum Ne Aankhon Se Dekha Nahin Hai Magar Unki Tasweer Seene Mein Maujood Hai | Un Ka Jalwa To Seene Mein Maujood Hai

बेख़ुद किए देते हैं अंदाज़-ए-हिजाबाना / Bekhud Kiye Dete Hain Andaz-e-Hijabana

अल-मदद पीरान-ए-पीर ग़ौस-उल-आज़म दस्तगीर / Al-Madad Peeran-e-Peer Ghaus-ul-Azam Dastageer

मुस्तफ़ा, जान-ए-रहमत पे लाखों सलाम (मुख़्तसर) / Mustafa, Jaan-e-Rahmat Pe Laakhon Salaam (Short)

कोई दुनिया-ए-अता में नहीं हमता तेरा | तज़मीन - वाह ! क्या जूद-ओ-करम है, शह-ए-बतहा ! तेरा / Koi Duniya-e-Ata Mein Nahin Hamta Tera | Tazmeen of Waah ! Kya Jood-o-Karam Hai, Shah-e-Bat.ha ! Tera

बुला लो फिर मुझे ऐ शाह-ए-बहर-ओ-बर मदीने में / Bula Lo Phir Mujhe Aye Shah-e-Bahr-o-Bar Madine Mein

ऐ सबा मुस्तफ़ा से कह देना ग़म के मारे सलाम कहते हैं / Aye Saba Mustafa Se Keh Dena Gham Ke Mare Salam Kehte Hain (All Versions)