बेख़ुद किए देते हैं अंदाज़-ए-हिजाबाना / Bekhud Kiye Dete Hain Andaz-e-Hijabana

बे-ख़ुद किए देते हैं अंदाज़-ए-हिजाबाना
आ दिल में तुझे रख लूँ, ऐ जल्वा-ए-जानाना !

इतना तो करम करना, ऐ चश्म-ए-करीमाना !
जब जान लबों पर हो, तुम सामने आ जाना

क्यूँ आँख मिलाई थी, क्यूँ आग लगाई थी
अब रुख़ को छुपा बैठे कर के मुझे दीवाना

जी चाहता है तोहफ़े में भेजूँ मैं उन्हें आँखें
दर्शन का तो दर्शन हो, नज़राने का नज़राना

क्या लुत्फ़ हो महशर में, क़दमों में गिरूँ उन के
सरकार कहें देखो, दीवाना है दीवाना !

क्या लुत्फ़ हो महशर में मैं शिकवे किए जाऊँ
वो हँस के कहे जाएँ दीवाना है दीवाना

मैं होश-ओ-हवास अपने इस बात पे खो बैठा
जब तू ने कहा हँस के, आया मेरा दीवाना

पीने को तो पी लूँगा, पर 'अर्ज़ ज़रा सी है
अजमेर का साक़ी हो, बग़दाद का मय-ख़ाना

बेदम ! मेरी क़िस्मत में चक्कर हैं इसी दर के
छूटा है न छूटेगा मुझ से दर-ए-जानाना

साक़ी तेरे आते ही ये जोश है मस्ती का
शीशे पे गिरा शीशा, पैमाने पे पैमाना

मा'लूम नहीं, बेदम ! मैं कौन हूँ और क्या हूँ
यूँ अपनों में अपना हूँ, बेगानों में बेगाना


शायर:
बेदम शाह वारसी

ना'त-ख़्वाँ:
ओवैस रज़ा क़ादरी
अमजद साबरी
हाफ़िज़ अहमद रज़ा क़ादरी





be-KHud kiye dete hai.n andaaz-e-hijaabaana
aa dil me.n tujhe rakh lu.n, ai jalwa-e-jaanaana !

itna to karam karna, ai chashm-e-kareemaana !
jab jaan labo.n par ho, tum saamne aa jaana

kyu.n aankh milaai thi, kyu.n aag lagaai thi
ab ruKH ko chhupa baiThe kar ke mujhe deewana

jee chaahta hai tohfe me.n bheju.n mai.n unhe.n aankhe.n
darshan ka to darshan ho, nazraane ka nazraana

kya lutf ho mehshar me.n, qadmo.n me.n giru.n un ke
sarkaar kahe.n dekho, deewana hai deewana !

kya lutf ho mehshar me.n mai.n shikwe kiye jaau.n
wo hans ke kahe jaae.n, deewana hai deewana !

mai.n hosh-o-hawaas apne is baat pe kho baiTha
jab tu ne kaha hans ke, aaya mera deewana

peene ko to pee loonga, par 'arz zara si hai
ajmer ka saaqi ho, baGdaad ka mai-KHaana

Bedam ! meri qismat me.n chakkar hai.n isi dar ke
chhooTa hai na chhooTega mujh se dar-e-jaanaana

saaqi tere aate hi ye josh hai masti ka
sheeshe pe gira sheesha, paimaane pe paimaana

maa'loom nahi.n, Bedam ! mai.n kaun hu.n aur kya hu.n
yu.n apno me.n apna hu.n, begaano.n me.n begaana


Poet:
Bedam Shah Warsi

Naat-Khwaan:
Owais Raza Qadri
Amjad Sabri
Ahmad Raza Qadri
Hafiz Ahmed Raza Qadri
Bekhud Kiye Dete Hain Naat Lyrics | Bekhud Kiye Dete Hain Andaz e Hijabana Naat Lyrics in Hindi | Aa Dil Mein Tujhe Rakh Lun Lyrics | Bedam Shah Warsi Lyrics | Be Khud Kie hai hei hein andaze aye ae jalwa e janana Lyrics | jalwaye | lyrics of naat | naat lyrics in hindi | islamic lyrics | hindi me naat lyrics | hindi me naat likhi hui | All Naat Lyrics in Hindi | नात शरीफ लिरिक्स हिंदी, नात शरीफ लिरिक्स हिंदी में, नात शरीफ लिरिक्स हिंदी में, नात हिंदी में लिखी हुई | नात शरीफ की किताब हिंदी में | आला हजरत की नात शरीफ lyrics | हिंदी नात | Lyrics in English | Lyrics in Roman 50+ Naat Lyrics | Best Place To Find All Naat Sharif | 500+ Naat Lyrics | Best Site To Find All Naat in Hindi, English | 430 Naat lyrics ideas in 2024

Comments

  1. 🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹

    ReplyDelete
  2. Allah padhne or sunne walo ki tamam mushkilo ko aasan farmaye

    ReplyDelete
  3. Subhaan allah

    Aise behtreen kalaam likhne wale ko allah apne hifz o Amaan me rakhe aur bhi khubsurat kalaam likhne ki taufeeq de

    ReplyDelete

Post a Comment

Most Popular

मेरे हुसैन तुझे सलाम / Mere Husain Tujhe Salaam

वो शहर-ए-मोहब्बत जहाँ मुस्तफ़ा हैं / Wo Shehr-e-Mohabbat Jahan Mustafa Hain (All Versions)

क्या बताऊँ कि क्या मदीना है / Kya Bataun Ki Kya Madina Hai

मेरा बादशाह हुसैन है | ऐसा बादशाह हुसैन है / Mera Baadshaah Husain Hai | Aisa Baadshaah Husain Hai

ऐ ज़हरा के बाबा सुनें इल्तिजा मदीना बुला लीजिए / Aye Zahra Ke Baba Sunen Iltija Madina Bula Lijiye

अल्लाह की रज़ा है मोहब्बत हुसैन की | या हुसैन इब्न-ए-अली / Allah Ki Raza Hai Mohabbat Hussain Ki | Ya Hussain Ibne Ali

कर्बला के जाँ-निसारों को सलाम / Karbala Ke Jaan-nisaron Ko Salam

हुसैन तुम को ज़माना सलाम कहता है / Husain Tum Ko Zamana Salam Kehta Hai

हम हुसैन वाले हैं / Hum Hussain Wale Hain

हुसैन आज सर को कटाने चले हैं / Husain Aaj Sar Ko Katane Chale Hain