सब नबियों से आला मेरा काली कमली वाला / Sab Nabiyon Se Aala Mera Kali Kamli Wala

सब नबियों से आ'ला मेरा काली कमली वाला
काली कमली वाला आक़ा, शहर मदीने वाला

सब नबियों से आ'ला मेरा काली कमली वाला
वो बद्र-ए-मुनीर नुबुव्वत का, असहाब हैं इस का हाला

सब नबियों से आ'ला मेरा काली कमली वाला

वो ख़त्म-ए-रुसुल, मौला-ए-कुल
वो फ़ख़्र-ए-रुसुल, दाना-ए-सुबुल
तेरा चेहरा वद्दुहा ऐसा
कोई हसीन न आया तुझ जैसा
मा-ज़ाग़-बसर है आँख तेरी
वल्लैल कमाल है ज़ुल्फ़ तेरी
तेरे हुस्न का ऐसा जादू
रहा दिल पे किसी के न क़ाबू
हुस्न क़ुरैशी हाशमी का सब नबियों से निराला

सब नबियों से आ'ला मेरा काली कमली वाला
काली कमली वाला आक़ा, शहर मदीने वाला
सब नबियों से आ'ला मेरा काली कमली वाला

तेरे आने से ये महका जहाँ
किसी ख़ुश्बू में ये महक कहाँ
यासीन चमकती तुझ को मिली
खिले फूल, कली हर एक खिली
तू ने देखा ज़र्रे चमक उठे
हुआ चाँद ऊँगली से दो टुकड़े
तेरा लु'आब शहद से भी मीठा
आब-ए-कौसर से भी मीठा
हर ख़ुश्बू से दो-बाला, तेरा पसीना आ'ला

सब नबियों से आ'ला मेरा काली कमली वाला
काली कमली वाला आक़ा, शहर मदीने वाला
सब नबियों से आ'ला मेरा काली कमली वाला

और करती रहूँ मिदहत उन की
और करती रहूँ मिदहत उन की
तू सादिक़ और अमीन हसीं
मैं ने उन जैसा न देखा कहीं
उन के हर इक बोल पे ना'त लिखूँ
उन की प्यारी हर इक बात लिखूँ
उन के कलमे का इक़रार करूँ
और वक़्त-ए-नज़ा' मैं याद करूँ
आक़ा की शफ़ा'अत का मुझ को पैग़ाम मिलेगा निराला

सब नबियों से आ'ला मेरा काली कमली वाला
काली कमली वाला आक़ा, शहर मदीने वाला
सब नबियों से आ'ला मेरा काली कमली वाला


ना'त-ख़्वाँ:
सिदरतुल-मुंतहा
वजीहा और बुशरा



सब नबियों से आ'ला मेरा काली कमली वाला
काली कमली वाला आक़ा, शहर मदीने वाला
सब नबियों से आ'ला मेरा काली कमली वाला

तेरे आने से महका ये जहाँ
किसी ख़ुश्बू में ये महक कहाँ
मा-ज़ाग़-बसर है आँख तेरी
वल्लैल कमाल है ज़ुल्फ़ तेरी
तेरे हुस्न का ऐसा जादू
रहा दिल पे किसी के न काबू
हुस्न-ए-क़ुरैशी-हाशमी सब नबियों से निराला

काली कमली वाला आक़ा, शहर मदीने वाला
सब नबियों से आ'ला मेरा काली कमली वाला

वो ख़त्म-ए-रुसुल, मौला-ए-कुल
वो फ़ख़्र-ए-रुसुल, दाना-ए-सुबुल
तेरा चेहरा वद्दुहा ऐसा
कोई हसीं न आया तुझ जैसा
तेरा लु'आब शहद से भी मीठा
आब-ए-कौसर से भी मीठा
तेरा वो पसीना, आक़ा ! है मुश्क-ओ-गुलाब से आ'ला

काली कमली वाला आक़ा, शहर मदीने वाला
सब नबियों से आ'ला मेरा काली कमली वाला


ना'त-ख़्वाँ:
संदली अहमद





sab nabiyo.n se aa'la mera kaali kamli waala
kaali kamli waala aaqa, shehr madine waala

sab nabiyo.n se aa'la mera kaali kamli waala
wo badr-e-muneer nubuwwat ka, as.haab hai is ka haala

sab nabiyo.n se aa'la mera kaali kamli waala

wo KHatm-e-rusul, maula-e-kul
wo faKHr-e-rusul, daana-e-subul
tera chehra wadduha aisa
koi haseen na aaya tujh jaisa
maa-zaaG-basar hai aankh teri
wallail kamaal hai zulf teri
tere husn ka aisa jaadoo
raha dil pe kisi ke na qaaboo
husn quraishi haashmi ka sab nabiyo.n se niraala

sab nabiyo.n se aa'la mera kaali kamli waala
kaali kamli waala aaqa, shehr madine waala
sab nabiyo.n se aa'la mera kaali kamli waala

tere aane se ye mehka jahaa.n
kisi KHushboo me.n ye mehk kahaa.n
yaaseen chamakti tujh ko mili
khile phool, kali har ek khili
tu ne dekha zarre chamak uThe
huaa chaand ungli se do Tuk.De
tera lu'aab shahad se bhi meeTha
aab-e-kausar se bhi meeTha
har KHushboo se do-baala, tera paseena aa'la

sab nabiyo.n se aa'la mera kaali kamli waala
kaali kamli waala aaqa, shehr madine waala
sab nabiyo.n se aa'la mera kaali kamli waala

aur karti rahu.n mid.hat un ki
aur karti rahu.n mid.hat un ki
tu saadiq aur ameen hasee.n
mai.n ne un jaisa na dekha kahi.n
un ke har ik bol pe naa't likhu.n
un ki pyaari har ik baat likhu.n
un ke kalme ka iqraar karu.n
aur waqt-e-naza' mai.n yaad karu.n
aaqa ki shafaa'at ka mujh ko paiGaam milega niraala

sab nabiyo.n se aa'la mera kaali kamli waala
kaali kamli waala aaqa, shehr madine waala
sab nabiyo.n se aa'la mera kaali kamli waala


Naat-Khwaan:
Sidra Tul Muntaha
Wajiha and Bushra



sab nabiyo.n se aa'la mera kaali kamli waala
kaali kamli waala aaqa, shehr madine waala
sab nabiyo.n se aa'la mera kaali kamli waala

tere aane se mehka ye jahaa.n
kisi KHushboo me.n ye mehk kahaa.n
maa-zaaG-basar hai aankh teri
wallail kamaal hai zulf teri
tere husn ka aisa jaadoo
raha dil pe kisi ke na qaaboo
husn-e-quraishi-haashmi sab nabiyo.n se niraala

kaali kamli waala aaqa, shehr madine waala
sab nabiyo.n se aa'la mera kaali kamli waala

wo KHatm-e-rusul, maula-e-kul
wo faKHr-e-rusul, daana-e-subul
tera chehra wadduha aisa
koi hasee.n na aaya tujh jaisa
tera lu'aab shahad se bhi meeTha
aab-e-kausar se bhi meeTha
tera wo paseena, aaqa ! hai mushk-o-gulaab se aa'la

kaali kamli waala aaqa, shehr madine waala
sab nabiyo.n se aa'la mera kaali kamli waala


Naat-Khwaan:
Sandali Ahmad
Sab Nabiyon Se Aala Mera Kali Kamli Wala Lyrics | Sab Nabiyon Se Aala Mera Kali Kamli Wala Lyrics in Hindi | Sab Nabiyon Se Aala Naat Lyrics English | Nabiyo Ala aa'la a'la lyrics of naat, naat lyrics in hindi, islamic lyrics, hindi me naat lyrics, hindi me naat likhi hui, नात शरीफ लिरिक्स हिंदी, नात शरीफ लिरिक्स हिंदी में, नात शरीफ लिरिक्स हिंदी में, नात हिंदी में लिखी हुई, नात शरीफ की किताब हिंदी में, आला हजरत की नात शरीफ lyrics, हिंदी नात, Lyrics in English, Lyrics in Roman

Comments

Most Popular

हम ने आँखों से देखा नहीं है मगर उन की तस्वीर सीने में मौजूद है | उन का जल्वा तो सीने में मौजूद है / Hum Ne Aankhon Se Dekha Nahin Hai Magar Unki Tasweer Seene Mein Maujood Hai | Un Ka Jalwa To Seene Mein Maujood Hai

मुस्तफ़ा, जान-ए-रहमत पे लाखों सलाम (मुख़्तसर) / Mustafa, Jaan-e-Rahmat Pe Laakhon Salaam (Short)

मैं बंदा-ए-'आसी हूँ, ख़ता-कार हूँ, मौला ! / Main Banda-e-Aasi Hoon, Khata-Kaar Hoon, Maula !

उन का मँगता हूँ जो मँगता नहीं होने देते / Un Ka Mangta Hun Jo Mangta Nahin Hone Dete

तेरा नाम ख़्वाजा मुईनुद्दीन | तू रसूल-ए-पाक की आल है / Tera Naam Khwaja Moinuddin | Tu Rasool-e-Pak Ki Aal Hai

बे-ख़ुद किए देते हैं अंदाज़-ए-हिजाबाना / Be-Khud Kiye Dete Hain Andaaz-e-Hijabana

अल-मदद पीरान-ए-पीर ग़ौस-उल-आज़म दस्तगीर / Al-Madad Peeran-e-Peer Ghaus-ul-Azam Dastageer

हाल-ए-दिल किस को सुनाएँ, आप के होते हुए / Haal-e-Dil Kis Ko Sunaaen Aap Ke Hote Hue

छूटे न कभी तेरा दामन या ख़्वाजा मुईनुद्दीन हसन / Chhoote Na Kabhi Tera Daman Ya Khwaja Muinuddin Hasan

जानम फ़िदा-ए-हैदरी या अली अली अली / Jaanam Fida-e-Haideri Ya Ali Ali Ali (All Versions)