रख लें वो जो दर पर मुझे दरबान वग़ैरा / Rakh Len Wo Jo Dar Par Mujhe Darban Waghaira

रख लें वो जो दर पर मुझे दरबान वग़ैरा
फिर क्या है मेरे सामने सुल्तान वग़ैरा

ख़ैरात मिली हो जिन्हें सरकार के दर से
दुनिया के उठाते नहीं एहसान वग़ैरा

आक़ा की चटाई की तो वो शान है वल्लाह
बस नाम के हैं तख़्त-ए-सुलैमान वग़ैरा

बनना है मुझे ख़ाक-ए-रह-ए-शहर-ए-मदीना
बन कर मुझे रहना नहीं मेहमान वग़ैरा

तासीर-ए-लु'आब-ए-दहन-ए-पाक है ऐसी
सर क़दमों में रख देते हैं लुक़मान वग़ैरा

बू-सीरी की इक ना'त ने वो रंग जमाया
लोगों के धरे रह गए दीवान वग़ैरा

हो हुक्म तो ले आऊँ मैं जन्नत में उन्हें भी
कुछ रह गए बाक़ी जो सना-ख़्वान वग़ैरा

आएँ तो सही आप के मँगते के मुक़ाबिल
जितने भी ज़माने के हैं सुल्तान वग़ैरा


शायर:
सुल्तान महमूद हाश्मी

ना'त-ख़्वाँ:
सय्यिद ज़बीब मसूद
वक़ार महमूद हाश्मी





rakh le.n wo jo dar par mujhe darbaan waGaira
phir kya hai mere saamne sultaan waGaira

KHairaat mili ho jinhe.n sarkaar ke dar se
duniya ke uThaate nahi.n ehsaan waGaira

aaqa ki chaTaai ki to wo shaan hai wallah
bas naam ke hai.n taKHt-e-sulaimaan waGaira

ban.na hai mujhe KHaak-e-rah-e-shehr-e-madina
ban kar mujhe rehna nahi.n mehmaan waGaira

taaseer-e-lu'aab-e-dahan-e-paak hai aisi
sar qadmo.n me.n rakh dete hai.n luqmaan waGaira

bu-siri ki ik naa't ne wo rang jamaaya
logo.n ke dhare reh gae deewaan waGaira

ho hukm to le aau.n mai.n jannat me.n unhe.n bhi
kuchh reh gae baaqi jo sana-KHwaan waGaira

aae.n to sahi aap ke mangte ke muqaabil
jitne bhi zamaane ke hai.n sultaan waGaira


Poet:
Sultan Mehmood Hashmi

Naat-Khwaan:
Syed Zabeeb Masood
Waqar Mehmood Hashmi
Rakh Len Wo Jo Dar Par Lyrics in Hindi | Rakh Len Wo Jo Dar Par Mujhe Darban Waghaira Lyrics in Hindi | Rakh Lain Wo Jo Dar Par Lyrics | lein le pe wagera wagaira waghera | lyrics of naat | naat lyrics in hindi | islamic lyrics | hindi me naat lyrics | hindi me naat likhi hui | All Naat Lyrics in Hindi | नात शरीफ लिरिक्स हिंदी, नात शरीफ लिरिक्स हिंदी में, नात शरीफ लिरिक्स हिंदी में, नात हिंदी में लिखी हुई | नात शरीफ की किताब हिंदी में | आला हजरत की नात शरीफ lyrics | हिंदी नात | Lyrics in English | Lyrics in Roman 50+ Naat Lyrics | Best Place To Find All Naat Sharif | 500+ Naat Lyrics | Best Site To Find All Naat in Hindi, English | 430 Naat lyrics ideas in 2023

Comments

Most Popular

क्या बताऊँ कि क्या मदीना है / Kya Bataun Ki Kya Madina Hai

वो शहर-ए-मोहब्बत जहाँ मुस्तफ़ा हैं / Wo Shehr-e-Mohabbat Jahan Mustafa Hain (All Versions)

ऐ ज़हरा के बाबा सुनें इल्तिजा मदीना बुला लीजिए / Aye Zahra Ke Baba Sunen Iltija Madina Bula Lijiye

बेख़ुद किए देते हैं अंदाज़-ए-हिजाबाना / Bekhud Kiye Dete Hain Andaz-e-Hijabana

अल-मदद पीरान-ए-पीर ग़ौस-उल-आज़म दस्तगीर / Al-Madad Peeran-e-Peer Ghaus-ul-Azam Dastageer

हम ने आँखों से देखा नहीं है मगर उन की तस्वीर सीने में मौजूद है | उन का जल्वा तो सीने में मौजूद है / Hum Ne Aankhon Se Dekha Nahin Hai Magar Unki Tasweer Seene Mein Maujood Hai | Un Ka Jalwa To Seene Mein Maujood Hai

मुस्तफ़ा, जान-ए-रहमत पे लाखों सलाम (मुख़्तसर) / Mustafa, Jaan-e-Rahmat Pe Laakhon Salaam (Short)

कोई दुनिया-ए-अता में नहीं हमता तेरा | तज़मीन - वाह ! क्या जूद-ओ-करम है, शह-ए-बतहा ! तेरा / Koi Duniya-e-Ata Mein Nahin Hamta Tera | Tazmeen of Waah ! Kya Jood-o-Karam Hai, Shah-e-Bat.ha ! Tera

ज़िंदगी ये नहीं है किसी के लिए | वल्लाह वल्लाह / Zindagi Ye Nahin Hai Kisi Ke Liye | Wallah Wallah

जहाँ-बानी अता कर दें भरी जन्नत हिबा कर दें | मुनव्वर मेरी आँखों को मेरे शम्सुद्दुहा कर दें / Jahan-bani Ata Kar Den Bhari Jannat Hiba Kar Den | Muanawwar Meri Aankhon Ko Mere Shamsudduha Kar Den