करम फिर रसूल-ए-ख़ुदा कीजिएगा / Karam Phir Rasool-e-Khuda Kijiyega

करम फिर रसूल-ए-ख़ुदा कीजिएगा
मुझे फिर मदीने बुला लीजिएगा

फिरूँ जिस में आराम से रात-दिन मैं
वो गलियाँ मुझे भी दिखा दीजिएगा

जियूँ मैं जहाँ तक, पियूँ आब-ए-ज़रका
मरुँ आब-ए-कौसर पीला दीजिएगा

मेरे अशरफ़ी पीर-ओ-मुर्शिद के सदक़े
ज़रा रुख़ से पर्दा हटा दीजिएगा

जो था 'इश्क़-ए-मुर्शिद में ख़ुसरौ ने देखा
वो मंज़र मुझे भी दिखा दीजिएगा

मरे जब के यूसुफ़ तो आप उस की, आक़ा !
नमाज़-ए-जनाज़ा पढ़ा दीजिएगा


शायर:
यूसुफ़ अशरफ़ी

ना'त-ख़्वाँ:
ओवैस रज़ा क़ादरी





karam phir rasool-e-KHuda kijiyega
mujhe phir madine bula lijiyega

phiru.n jis me.n aaraam se raat-din mai.n
wo galiya.n mujhe bhi dikha dijiyega

jiyu.n mai.n jaha.n tak, piyu.n aab-e-zarqa
maru.n aab-e-kausar pila dijiyega

mere ashrafi peer-o-murshid ke sadqe
zara ruKH se parda haTa dijiyega

jo tha 'ishq-e-murshid me.n KHusrau ne dekha
wo manzar mujhe bhi dikha dijiyega

mare jab ke Yusuf to aap us ki, aaqa !
namaaz-e-janaaza pa.Dha dijiyega


Poet:
Yusuf Ashrafi

Naat-Khwaan:
Owais Raza Qadri
Karam Phir Rasool e Khuda Kijiyega Lyrics in Hindi | Karam Phir Rasool-e-Khuda Kijiye ga Lyrics | Mujhe Phir Madine Bula Lijiyega Lyrics in English | fir rasul rasul-e-khuda kijiega kijie ga muje lijiye ga lyrics of naat, naat lyrics in hindi, islamic lyrics, hindi me naat lyrics, hindi me naat likhi hui, नात शरीफ लिरिक्स हिंदी, नात शरीफ लिरिक्स हिंदी में, नात शरीफ लिरिक्स हिंदी में, नात हिंदी में लिखी हुई, नात शरीफ की किताब हिंदी में, आला हजरत की नात शरीफ lyrics, हिंदी नात, Lyrics in English, Lyrics in Roman

Comments

Most Popular

हम ने आँखों से देखा नहीं है मगर उन की तस्वीर सीने में मौजूद है | उन का जल्वा तो सीने में मौजूद है / Hum Ne Aankhon Se Dekha Nahin Hai Magar Unki Tasweer Seene Mein Maujood Hai | Un Ka Jalwa To Seene Mein Maujood Hai

मुस्तफ़ा, जान-ए-रहमत पे लाखों सलाम (मुख़्तसर) / Mustafa, Jaan-e-Rahmat Pe Laakhon Salaam (Short)

मैं बंदा-ए-'आसी हूँ, ख़ता-कार हूँ, मौला ! / Main Banda-e-Aasi Hoon, Khata-Kaar Hoon, Maula !

तेरा नाम ख़्वाजा मुईनुद्दीन | तू रसूल-ए-पाक की आल है / Tera Naam Khwaja Moinuddin | Tu Rasool-e-Pak Ki Aal Hai

बे-ख़ुद किए देते हैं अंदाज़-ए-हिजाबाना / Be-Khud Kiye Dete Hain Andaaz-e-Hijabana

उन का मँगता हूँ जो मँगता नहीं होने देते / Un Ka Mangta Hun Jo Mangta Nahin Hone Dete

अल-मदद पीरान-ए-पीर ग़ौस-उल-आज़म दस्तगीर / Al-Madad Peeran-e-Peer Ghaus-ul-Azam Dastageer

हाल-ए-दिल किस को सुनाएँ, आप के होते हुए / Haal-e-Dil Kis Ko Sunaaen Aap Ke Hote Hue

मौला अली मौला ! मौला अली मौला ! / Maula Ali Maula ! Maula Ali Maula !

छूटे न कभी तेरा दामन या ख़्वाजा मुईनुद्दीन हसन / Chhoote Na Kabhi Tera Daman Ya Khwaja Muinuddin Hasan