ज़हे-क़िस्मत मदीने जा रहा हूँ / Zahe Qismat Madine Ja Raha Hoon

ज़हे-क़िस्मत मदीने जा रहा हूँ
स'आदत कैसी आ'ला पा रहा हूँ

मेरे यारो ! ज़रा मुझ को सँभालो
ख़ुशी से मैं तो उड़ता जा रहा हूँ

बुलावा आ गया शहर-ए-नबी से
झुकाए सर मैं बढ़ता जा रहा हूँ

न क्यूँ झूमूँ मुक़द्दर पर मैं अपने
कि रमज़ान-ए-मदीना पा रहा हूँ


ना'त-ख़्वाँ:
ओवैस रज़ा क़ादरी





zahe-qismat madine jaa raha hu.n
sa'aadat kaisi aa'la paa raha hu.n

mere yaaro ! zara mujh ko sambhaalo
KHushi se mai.n to u.Dta jaa raha hu.n

bulaawa aa gaya shehr-e-nabi se
jhukaae sar mai.n ba.Dhta jaa raha hu.n

na kyu.n jhoomu.n muqaddar par mai.n apne
ki ramzaan-e-madina paa raha hu.n


Naat-Khwaan:
Owais Raza Qadri
Zahe Qismat Madine Ja Raha Hoon Lyrics | Zahe Qismat Madine Ja Raha Hun Lyrics in Hindi | Owais Raza Qadri Naat Lyrics | Zahe Qismat Madine Ja Raha Hu | Zah e hon lyrics of naat, naat lyrics in hindi, islamic lyrics, hindi me naat lyrics, hindi me naat likhi hui, नात शरीफ लिरिक्स हिंदी, नात शरीफ लिरिक्स हिंदी में, नात शरीफ लिरिक्स हिंदी में, नात हिंदी में लिखी हुई, नात शरीफ की किताब हिंदी में, आला हजरत की नात शरीफ lyrics, हिंदी नात, Lyrics in English, Lyrics in Roman

Comments

Most Popular

हम ने आँखों से देखा नहीं है मगर उन की तस्वीर सीने में मौजूद है | उन का जल्वा तो सीने में मौजूद है / Hum Ne Aankhon Se Dekha Nahin Hai Magar Unki Tasweer Seene Mein Maujood Hai | Un Ka Jalwa To Seene Mein Maujood Hai

मुस्तफ़ा, जान-ए-रहमत पे लाखों सलाम (मुख़्तसर) / Mustafa, Jaan-e-Rahmat Pe Laakhon Salaam (Short)

मैं बंदा-ए-'आसी हूँ, ख़ता-कार हूँ, मौला ! / Main Banda-e-Aasi Hoon, Khata-Kaar Hoon, Maula !

तेरा नाम ख़्वाजा मुईनुद्दीन | तू रसूल-ए-पाक की आल है / Tera Naam Khwaja Moinuddin | Tu Rasool-e-Pak Ki Aal Hai

बे-ख़ुद किए देते हैं अंदाज़-ए-हिजाबाना / Be-Khud Kiye Dete Hain Andaaz-e-Hijabana

उन का मँगता हूँ जो मँगता नहीं होने देते / Un Ka Mangta Hun Jo Mangta Nahin Hone Dete

अल-मदद पीरान-ए-पीर ग़ौस-उल-आज़म दस्तगीर / Al-Madad Peeran-e-Peer Ghaus-ul-Azam Dastageer

हाल-ए-दिल किस को सुनाएँ, आप के होते हुए / Haal-e-Dil Kis Ko Sunaaen Aap Ke Hote Hue

मौला अली मौला ! मौला अली मौला ! / Maula Ali Maula ! Maula Ali Maula !

छूटे न कभी तेरा दामन या ख़्वाजा मुईनुद्दीन हसन / Chhoote Na Kabhi Tera Daman Ya Khwaja Muinuddin Hasan