माना कि गुनाहों में गिरफ़्तार हूँ मौला / Mana Ke Gunahon Mein Giraftar Hun Maula

माना कि गुनाहों में गिरफ़्तार हूँ, मौला !
पर तेरी 'अताओं का तलबगार हूँ, मौला !

तू मेरी ख़ताओं को 'अताओं में बदल दे
बिन तेरी 'अताओं के मैं लाचार हूँ, मौला !

भटका हुआ राही हूँ, सही राह दिखा दे
रंगीनी-ए-दुनिया से मैं बेज़ार हूँ, मौला !

इस रात के सदक़े में ख़ता माफ़ हो मेरी
मैं अपनी ख़ताओं पे शरमसार हूँ, मौला !

पहचान, जुनैद ! उन की सना हश्र में होगी
निस्बत के बिना उन की मैं बेकार हूँ, मौला !


शायर:
जुनैद क़ासमी

ना'त-ख़्वाँ:
सय्यिद हस्सानुल्लाह हुसैनी





maana ki gunaaho.n me.n giraftaar hu.n, maula !
par teri 'ataao.n ka talabgaar hu.n, maula !

tu meri KHataao.n ko 'ataao.n me.n badal de
bin teri 'ataao.n ke mai.n laachaar hu.n, maula !

bhaTka huaa raahi hu.n, sahi raah dikha de
rangeeni-e-duniya se mai.n bezaar hu.n, maula !

is raat ke sadqe me.n KHata maaf ho meri
mai.n apni KHataao.n pe sharamsaar hu.n, maula !

pehchaan, Junaid ! un ki sana hashr me.n hogi
nisbat ke bina un ki mai.n bekaar hu.n, maula !


Poet:
Junaid Qasmi

Naat-Khwaan:

Syed Hassan Ullah Hussaini
Mana Ke Gunahon Mein Giraftar Hun Maula Lyrics | Mana Ke Gunahon Mein Giraftar Hun Maula Lyrics in Hindi | Mana Ke Gunahon Me Giraftar Hoon Maula | ki gunaho me giriftar gariftar hoon hon mawla moula lyrics of naat, naat lyrics in hindi, islamic lyrics, hindi me naat lyrics, hindi me naat likhi hui, नात शरीफ लिरिक्स हिंदी, नात शरीफ लिरिक्स हिंदी में, नात शरीफ लिरिक्स हिंदी में, नात हिंदी में लिखी हुई, नात शरीफ की किताब हिंदी में, आला हजरत की नात शरीफ lyrics, हिंदी नात, Lyrics in English, Lyrics in Roman

Comments

Most Popular

अलविदा अलविदा माह-ए-रमज़ाँ / Alwida Alwida Mahe Ramzan | Alvida Alvida Mahe Ramzan

क़ल्ब-ए-आशिक़ है अब पारा पारा | अलविदा अलविदा माह-ए-रमज़ाँ / Alvida Alvida Mahe Ramzan | Qalb-e-Aashiq Hai Ab Para Para | Alwada Alwada Mah-e-Ramzan

वो शहर-ए-मोहब्बत जहाँ मुस्तफ़ा हैं / Wo Shehr-e-Mohabbat Jahan Mustafa Hain (All Versions)

क्या बताऊँ कि क्या मदीना है / Kya Bataun Ki Kya Madina Hai

मुस्तफ़ा, जान-ए-रहमत पे लाखों सलाम (मुख़्तसर) / Mustafa, Jaan-e-Rahmat Pe Laakhon Salaam (Short)

ऐ ज़हरा के बाबा सुनें इल्तिजा मदीना बुला लीजिए / Aye Zahra Ke Baba Sunen Iltija Madina Bula Lijiye

बे-ख़ुद किए देते हैं अंदाज़-ए-हिजाबाना / Be-Khud Kiye Dete Hain Andaaz-e-Hijabana

हम ने आँखों से देखा नहीं है मगर उन की तस्वीर सीने में मौजूद है | उन का जल्वा तो सीने में मौजूद है / Hum Ne Aankhon Se Dekha Nahin Hai Magar Unki Tasweer Seene Mein Maujood Hai | Un Ka Jalwa To Seene Mein Maujood Hai

कोई दुनिया-ए-अता में नहीं हमता तेरा | तज़मीन - वाह ! क्या जूद-ओ-करम है, शह-ए-बतहा ! तेरा / Koi Duniya-e-Ata Mein Nahin Hamta Tera | Tazmeen of Waah ! Kya Jood-o-Karam Hai, Shah-e-Bat.ha ! Tera

ताजदार-ए-हरम ऐ शहंशाह-ए-दीं | तुम पे हर दम करोड़ों दुरूद-ओ-सलाम / Tajdar-e-Haram Aye Shahanshah-e-Deen | Tum Pe Har Dam Karodon Durood-o-Salam