अव्वल हैं वही आख़िर हैं वही | सरकार के जैसा कोई नहीं / Awwal Hain Wahi Aakhir Hain Wahi | Sarkar Ke Jaisa Koi Nahin

अव्वल हैं वही, आख़िर हैं वही, सरकार के जैसा कोई नहीं
ईसा, मूसा कहते हैं सभी, सरकार के जैसा कोई नहीं

ज़ुल्फ़ों को कहे वल्लैल ख़ुदा और आँखों को मा-ज़ाग़ कहा
लिक्खा है कलाम-ए-पाक में भी, सरकार के जैसा कोई नहीं

सदक़े हैं नबी के शम्स-ओ-क़मर, देते हैं सलामी शजर-ओ-हजर
मर्ज़ी सब पर आक़ा की चली, सरकार के जैसा कोई नहीं

दिल से न गया आक़ा का ख़याल, थे चूर बहुत ज़ख़्मों से बिलाल
फिर भी लब पर था उन के यही, सरकार के जैसा कोई नहीं

बच्चों को दूध पिला आई, वा'दे को अपने निभा आई
हिरनी लौटी और कहने लगी, सरकार के जैसा कोई नहीं

सिद्दीक़ को अपना यार किया, 'उस्मान-ए-ग़नी से प्यार किया
कहते हैं यही फ़ारूक़-ओ-'अली, सरकार के जैसा कोई नहीं

मारहरा, बरेली वाले हों, वो चाहे मसौली वाले हों
फ़रमाते हैं सब पीर-ओ-वली, सरकार के जैसा कोई नहीं

मँझधार में हूँ बिगड़ी है हवा, ये बोले बरेली से मेरे रज़ा
अब नय्या लगाओ पार मेरी, सरकार के जैसा कोई नहीं

मीलाद नबी का मनाएँगे, झंडे हम यूँही लगाएँगे
तू जल जल कर मर जा, नज्दी ! सरकार के जैसा कोई नहीं


ना'त-ख़्वाँ:
नूर अली नूर कानपुरी





awwal hai.n wahi, aakhir hai.n wahi
sarkaar ke jaisa koi nahi.n
isa, moosa kehte hai.n sabhi
sarkaar ke jaisa koi nahi.n

zulfo.n ko kahe wallail KHuda
aur aankho.n ko maa-zaaG kaha
likkha hai kalaam-e-paak me.n bhi
sarkaar ke jaisa koi nahi.n

sadqe hai.n nabi ke shams-o-qamar
dete hai.n salaami shajar-o-hajar
marzi sab par aaqa ki chali
sarkaar ke jaisa koi nahi.n

dil se na gaya aaqa ka KHayaal
the choor bahut zaKHmo.n se bilaal
phir bhi lab par tha un ke yahi
sarkaar ke jaisa koi nahi.n

bachcho.n ko dhoodh pila aai
waa'de ko apne nibha aai
hirni lauTi aur kehne lagi
sarkaar ke jaisa koi nahi.n

siddiq ko apna yaar kiya
'usmaan-e-Gani se pyaar kiya
kehte hai.n yahi faarooq-o-'ali
sarkaar ke jaisa koi nahi.n

maarehra, bareli waale ho.n
wo chaahe masauli waale ho.n
farmaate hai.n sab peer-o-wali
sarkaar ke jaisa koi nahi.n

manjhdhaar me.n hu.n big.Di hai hawa
ye bole bareli se mere raza
ab nayya lagaao paar meri
sarkaar ke jaisa koi nahi.n

meelaad nabi ka manaaenge
jhande ham yunhi lagaaenge
tu jal jal kar mar jaa, najdi !
sarkaar ke jaisa koi nahi.n


Naat-Khwaan:
Noor Ali Noor Kanpuri
Sarkar Ke Jaisa Koi Nahin Lyrics in Hindi | Awwal Hain Wahi Aakhir Hain Wahi Lyrics | Sarkar Ke Jaisa Koi Nahi Lyrics in Hindi | Noor Ali Noor Naat Lyrics | jesa jeisa wohi avval akhir hei hein hai jaysa lyrics of naat | naat lyrics in hindi | islamic lyrics | hindi me naat lyrics | hindi me naat likhi hui | All Naat Lyrics in Hindi | नात शरीफ लिरिक्स हिंदी, नात शरीफ लिरिक्स हिंदी में, नात शरीफ लिरिक्स हिंदी में, नात हिंदी में लिखी हुई | नात शरीफ की किताब हिंदी में | आला हजरत की नात शरीफ lyrics | हिंदी नात | Lyrics in English | Lyrics in Roman 50+ Naat Lyrics | Best Place To Find All Naat Sharif | 500+ Naat Lyrics | Best Site To Find All Naat in Hindi, English | 430 Naat lyrics ideas in 2023

Comments

Most Popular

क्या बताऊँ कि क्या मदीना है / Kya Bataun Ki Kya Madina Hai

वो शहर-ए-मोहब्बत जहाँ मुस्तफ़ा हैं / Wo Shehr-e-Mohabbat Jahan Mustafa Hain (All Versions)

हम ने आँखों से देखा नहीं है मगर उन की तस्वीर सीने में मौजूद है | उन का जल्वा तो सीने में मौजूद है / Hum Ne Aankhon Se Dekha Nahin Hai Magar Unki Tasweer Seene Mein Maujood Hai | Un Ka Jalwa To Seene Mein Maujood Hai

मुस्तफ़ा, जान-ए-रहमत पे लाखों सलाम (मुख़्तसर) / Mustafa, Jaan-e-Rahmat Pe Laakhon Salaam (Short)

बे-ख़ुद किए देते हैं अंदाज़-ए-हिजाबाना / Be-Khud Kiye Dete Hain Andaaz-e-Hijabana

कोई दुनिया-ए-अता में नहीं हमता तेरा | तज़मीन - वाह ! क्या जूद-ओ-करम है, शह-ए-बतहा ! तेरा / Koi Duniya-e-Ata Mein Nahin Hamta Tera | Tazmeen of Waah ! Kya Jood-o-Karam Hai, Shah-e-Bat.ha ! Tera

वो जिस के लिए महफ़िल-ए-कौनैन सजी है | वो मेरा नबी, मेरा नबी, मेरा नबी है / Wo Jis Ke Liye Mehfil-e-Kaunain Saji Hai | Wo Mera Nabi, Mera Nabi, Mera Nabi Hai

नूरी महफ़िल पे चादर तनी नूर की / Noori Mehfil Pe Chadar Tani Noor Ki

अल-मदद पीरान-ए-पीर ग़ौस-उल-आज़म दस्तगीर / Al-Madad Peeran-e-Peer Ghaus-ul-Azam Dastageer

पाई शब-ए-बरात ये क़िस्मत की बात है | जागूँगा सारी रात इबादत की रात है / Paai Shab-e-Barat Ye Qismat Ki Baat Hai | Jagunga Saari Raat Ibadat Ki Raat Hai